img

मात-पिता ने कूड़ेदान में फेंका, भारत की ‘लैला’ बनी ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट की सुपरस्टार

Sangeeta Viswas
3 weeks ago

मात-पिता ने कूड़ेदान में फेंका, भारत की ‘लैला’ बनी ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट की सुपरस्टार. आज हम आपको बता रहे हैं ऑस्ट्रेलिया की पूर्व महिला क्रिकेट कप्तान लिसा स्थालेकर की कहानी, जिन्हें भारत में “लैला” के नाम से भी जाना जाता है. लिसा की कहानी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है.

जन्म से ही संघर्ष, अनाथालय में मिला सहारा

13 अगस्त 1979 को पुणे में जन्मी लिसा को उनके असली माता-पिता ने जन्म के तुरंत बाद ही अनाथालय के बाहर कूड़ेदान में फेंक दिया था. अनाथालय में उन्हें “लैला” नाम दिया गया.

ये भी पढ़े:  टीम इंडिया के 5 नए धमाकेदार खिलाड़ी जो पहली बार बने T20 वर्ल्ड कप का हिस्सा!

किस्मत का पहला खेल – अमेरिका और क्रिकेट से मुलाकात

कुछ समय बाद, लैला की जिंदगी में एक नया मोड़ आया. डॉ. हरेन और उनकी पत्नी सू ने लैला को गोद लिया और अपने साथ अमेरिका ले गए. अमेरिका में रहते हुए लैला, जिन्हें अब लिसा कहा जाता था, धीरे-धीरे बड़ी हुईं और यहीं उनकी मुलाकात क्रिकेट से हुई. क्रिकेट के इस प्यार ने लिसा की जिंदगी बदलकर रख दी.

ऑस्ट्रेलिया का रास्ता और क्रिकेट का जुनून

कुछ सालों बाद डॉ. हरेन का परिवार ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शिफ्ट हो गया. लिसा भी उनके साथ गईं और यहीं से उनकी क्रिकेट की असली पारी शुरू हुई. लिसा ने कड़ी मेहनत और लगन से क्रिकेट में अपना नाम कमाया.

2001 में डेब्यू और फिर शानदार करियर

2001 में लिसा ने ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम के लिए वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया. अपनी शानदार प्रतिभा और नेतृत्व क्षमता से उन्होंने सभी को प्रभावित किया. 2008 में वो ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम की कप्तान भी बनीं.

क्रिकेट की दुनिया में एक रिकॉर्ड

अपने करियर में लिसा ने कई शानदार उपलब्धियां हासिल कीं. वो 1000 रन बनाने और 100 विकेट लेने वाली पहली महिला क्रिकेटर बनीं. उन्होंने वनडे और टी20 क्रिकेट में 4 वर्ल्ड कप भी खेले.

ये भी पढ़े: इंग्लिश खिलाड़ी का भावुक फैसला! पिता के निधन के बाद क्रिकेट से लिया ब्रेक

2013 में संन्यास, लेकिन प्रेरणा का स्रोत बनी रहीं

12 साल के शानदार क्रिकेट करियर के बाद 2013 में लिसा ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया. लेकिन, उनकी कहानी आज भी लाखों लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है.

लिसा ने साबित कर दिया कि अगर आप मेहनत करते हैं और अपने सपनों को थामे रहते हैं, तो आप किसी भी मुकाम को हासिल कर सकते हैं.

Dream11 Free and Paid Team – Join Telegram Channel Click

Recent News