img

मौत आए तो आए, क्रिकेट नहीं छोड़ेंगे: 83 साल के एलेक्स स्टील अपनी विकेटकीपिंग में ऑक्सीजन को बाधा नहीं बनने देंगे!

Sangeeta Viswas
1 month ago

मौत आए तो आए, क्रिकेट नहीं छोड़ेंगे: 83 साल के एलेक्स स्टील अपनी विकेटकीपिंग में ऑक्सीजन को बाधा नहीं बनने देंगे! क्रिकेट जगत में हम अक्सर युवा खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन को देखते हैं, लेकिन क्या आपने कभी 83 साल के एलेक्स स्टील को क्रिकेट खेलते हुए देखा है?

जी हाँ, आपने सही पढ़ा! एलेक्स स्टील, जो ऑक्सीजन सिलेंडर से जुड़े रहकर भी क्रिकेट खेलने का जुनून रखते हैं, उन्होंने खेल प्रेमियों के लिए एक नया प्रेरणा स्त्रोत बन गए हैं।

ये भी पढ़े  आरसीबी का प्लेऑफ़ बाहर: क्या वे अपने साथ 5 अन्य टीमों को नीचे खींच सकते हैं?

जीवन और जुनून का मिश्रण:

एलेक्स स्टील का जन्म 1941 में स्कॉटलैंड में हुआ था। 1970 के दशक में उन्होंने स्कॉटलैंड क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए 14 प्रथम श्रेणी मैच खेले। 621 रन बनाने के साथ-साथ उन्होंने 2 अर्धशतक और 13 कैच भी पकड़े।

2020 में, उन्हें एक दुर्लभ फेफड़ों की बीमारी का पता चला, जिसके कारण उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर पर निर्भर रहना पड़ा। डॉक्टरों ने अनुमान लगाया था कि उनके पास जीने के लिए केवल 1 से 5 साल बचे हैं।

बीमारी से जंग:

लेकिन एलेक्स हार मानने वाले नहीं थे। उन्होंने बीमारी को चुनौती दी और क्रिकेट खेलना जारी रखा। ऑक्सीजन सिलेंडर से जुड़े रहकर विकेटकीपिंग करते हुए उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसने लोगों को प्रेरित किया। एलेक्स का कहना है, “बीमारी आपके ऊपर तभी हावी होती है जब आप उसे हावी होने देते हैं।”

जीवन का संदेश:

एलेक्स स्टील का जीवन संघर्ष, जुनून और दृढ़ संकल्प की प्रेरणादायक कहानी है। वे हमें सिखाते हैं कि जीवन में चाहे कितनी भी मुश्किलें आएं, हमें हार नहीं माननी चाहिए। अपनी रुचि और जुनून को हमेशा जिंदा रखना चाहिए।

ये भी पढ़े  भारत बनाम पाकिस्तान: क्या सीरीज होगी? रोहित शर्मा के बयान पर पीसीबी चीफ ने दिया जवाब!

आपका क्या खयाल है? क्या आप एलेक्स स्टील के जज्बे और दृढ़ संकल्प से प्रेरित हैं? टिप्पणी में अपनी राय साझा करें.

Dream11 Free and Paid Team – Join Telegram Channel Click Here

Recent News